अभिव्यक्ति

The Voice of Soul

टूटा तारा

मेरेटूटने सेग़र मुराद तुम्हारीपूरी होमैं टूटने कोतैयार हूँ… जोतुम्हारीहसरतें अब तकअधूरी हैवो पूरी होमैं टूटने कोतैयार हूँ… इसविराट विश्व मेंहर दर्द से ग़र तुमकोराहत मिलेमैं टूटने कोतैयार हूँ… मेराअस्तित्वबिखर करतुम्हारे लिएनिखर जायेगामैं टूटने कोतैयार हूँ… Read more…

सुभाषचन्द्र बोस

धूसर है आसमां मगरहर दिन एक ध्रुव तारा चमकता है“सुभाष” नाम अमर रहेसारा हिन्दूस्तान ये कहता है… निर्भिक निडर थाबोस परिवार का बच्चाबन गया ,भारत माँ कालाल, सपूत वह सच्चा… देश की आज़ादी का सपनाजागती Read more…

नूतन नववर्ष

अब न कहीं युद्ध होगान रहेगी अशान्ति।न कोरोना होगान ही किसी को रोना होगान होगी महामारीचहुँओर चहकेगी किलकारीन अपनो को खोना होगान ही किसी की आँख आँसुओं से भिगोना होगा ।जो गिरे हैवे पूर्ण मनोवेग Read more…

बंद डायरी.. खुली किताब

मेरे दिल की किताबकुंठा के ताले सेबरसों बंद पड़ी थी… एहसासों के अल्फ़ाज़उमड़ घुमड़ कर,थोड़ी दबी ज़ुबाँ सेबहुत कुछ कहते… मगर कुछ समझ,कुछ नासमझी कीअलसाई सी चादर तले ,बस उफनकर रह जाते… एक दिन कुछ Read more…

निर्णय

बंद दरवाज़े के अंदरकमरा ख़ामोशी सेपनाह दे रहा थादो अजनबियों को…. ऑंखों में ख़्वाबों को समेटेउसकी मुस्कान बता रही हैहर हाल खुश रहेगी,इस अजनबी के साथ… सात फेरों का नहींकाग़ज़ी हस्ताक्षर काबंधन है दोनों का…. Read more…

सी० ए०अठ्ठारह / नौ

बाइस साल बाद मिली जीत परकहीं खुशी कहीं दिखावे का सदमालालच में बिना सोचे समझेफिर कर दिया मुकदमासामाजिक अपमान सेचढ़ गयी भौंलोगों के चढ़ाने पर दायर कर दियासी० ए० अठारह बटे नौ।आखिर! सत्य परेशान होता Read more…

सात सौअठ्ठानवे/अट्ठासी

स्वाभिमान के आँगन मेंअन्याय के खिलाफएक मुकद्दमाअंकुरित हुआ ।जहाँ मरने के दस वर्ष बादमृतक को स्वर्ग से बुलाया गयाबकायदे रजिस्ट्री कराया गया।अंकुरण के पश्चातखाद -पानी के रुप मेंसारे ग्राह्य सबूत उसकी जड़ों में डाला गयाक्योंकि Read more…

शुभ दिन

अर्ध सत्य , अर्ध मिथ्या मेंजी रहे हैं हम… आधी – अधूरी ज़िंदगी केआधे – अधूरे लोग हैं हम… मान – अभिमान के द्वन्द्व युद्ध मेंकभी हारे कभी जीते हम… प्रासंगिक , अप्रासंगिक घटनाओं केएकमात्र Read more…

आजादी का अमृत महोत्सव

कुछ दिनों से , जोर शोर सेदेश में लग रहा है ये नाराहर घर तिरंगा, घर घर तिरंगातिरंगा है जान से प्यारा….. आज़ाद वतन की आज़ादी मेंतिरंगा लहराये प्यारासबसे प्यारा, सबसे न्याराहिंदूस्तान हमारा…. परचम के Read more…

Get in Touch

Give us a ring

+91 8080 673 595
Mon - Fri, 10:00-19:00

Contact Us